वाराणसी : BHU अस्पताल के नए चिकित्सा अधीक्षक बने डॉ केके गुप्ता

वाराणसी। पूर्वांचल का एम्स कहे जाने वाला सर सुंदरलाल चिकित्सालय में कोविड मरीज़ों के इलाज में लगातार आ रही लापरवाही सामने आरही है। जिसकों लेकर लगातार शि‍कायत भी आ रही थी। जिसकों लेकर चि‍कि‍त्‍सा अधीक्षक एसके माथुर ने इस्तीफा दे दिया। उनकी जगह डॉ कैलाश कुमार गुप्‍ता को बीएचयू अस्‍पताल की नयी जि‍म्‍मेदारी दी गई है।

एक दि‍न पहले ही एडीजी कार्यालय में तैनात दारोगा ने अपनी पत्‍नी की मौत के लि‍ये बीएचयू अस्‍पताल प्रशासन को जि‍म्‍मेदार ठहराते हुए लंका थाने में लि‍खि‍त शि‍कायत भी की थी। इन सबको देखते हुए कुलपति‍ ने बड़ा फैसला लेते हुए बीएचयू अस्‍पताल के चि‍कि‍त्‍सा अधीक्षक डॉ एस० के० माथुर को उनके पद से हटाते हुए तत्‍काल प्रभाव से डॉ कैलाश कुमार गुप्‍ता को नया सर सुंदर लाल चि‍कि‍त्‍सालय का नया प्रभारी बना दि‍या है।

बता दें कि‍ वि‍भि‍न्‍न रि‍पोर्टों से इस बात की जानकारी मि‍ल रही थी कि‍ वाराणसी में कोवि‍ड मरीजों की मौत के सबसे ज्‍यादा आंकड़े बीएचयू अस्‍पताल से सामने आ रहे हैं। साथ ही मरीजों के परि‍जन भी लगातार सर सुंदर लाल अस्‍पताल में दुर्व्‍यवस्‍थाओं को लेकर शि‍कायतें दर्ज करा रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *