April 12, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : बाबा का नया धाम अब दुनिया भर में चर्चा का विषय है : पीएम मोदी

वाराणसी : पीएम मोदी शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सहित अपने संसदीय क्षेत्र में एक दिवसीय दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने कई विकास परियोजनाओं की शिलान्यास व उद्घाटन किया। अपने यूपी की दौरे की शुरुआत पीएम अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से किया जिसमें उन्होंने सर्वप्रथम वह काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन पूजन किया और उसके बाद काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर की आधारशिला रखी।

पीएम द्वारा कही गयी मुख्य बाते :

जब मैं प्रधानमंत्री नहीं था, तब भी यहां आता था और मुझे लगता था की यहां कुछ करना चाहिए। लेकिन भोले बाबा ने तय किया होगा कि बेटे बातें बहुत करते हो यहां आओ और कुछ करके दिखाओ और आज भोले बाबा के आशीर्वाद से वो सपना पूरा हो रहा है।

सदियों से ये स्थान दुश्मनों के निशाने पर रहा, कितनी बार ध्वस्त हुआ, अपने अस्तित्व के बिना जिया। लेकिन यहां की आस्था ने इसे पुनर्जीवित किया और ये क्रम सदियों से चल रहा है।

जब महात्मा गांधी यहां आये थे, तो उनके मन में भी ये पीड़ा थी की भोले बाबा का स्थान ऐसा क्यों? और बीएचयू के एक कार्यक्रम में बापू अपने मन की व्यथा बताने से खुद को रोक नहीं पाए थे।

अब मां गंगा को सीधे बाबा भोलेनाथ से जोड़ दिया गया है। अब श्रद्धालु गंगा स्नान करके सीधे भोले बाबा के दर्शन करने आ सकेंगे।

पिछले कई सालों से भोले बाबा की चिंता किसी ने नहीं की, सभी ने अपनी-अपनी चिंता की। अच्छा हुआ कि भोलेबाबा ने हमारे भीतर एक चेतना जगाई। इसके कारण 40 से ज्यादा पुरातात्विक मंदिर इस पूरे धाम के अंदर से मिले। अब इन मंदिरों की मुक्ति का रास्ता भी खुला है।

काशी विश्वनाथ महादेव मंदिर करोड़ों देशवासियों की आस्था का स्थल है। लोग यहां इसलिए आते हैं कि काशी विश्वनाथ के प्रति उनकी अपार श्रद्धा है। उनकी आस्था को अब बल मिलेगा।ये काशी विश्वनाथ धाम, अब काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर के रूप में जाना जायेगा। इससे काशी की पूरे विश्व में एक अलग पहचान बनेगी।

इस दौरान अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय आजीविका सम्मेलन में भाग लिया जिसमे उन्होंने संबोधित किया

आज महिला सशक्तिकरण के लिए समर्पित दिन है। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के इस अवसर पर मैं आप सभी को, देश की हर बेटी, हर बहन को नमन करता हूं। आप सभी नए भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। आपकी सक्रिय भागीदारी और आशीर्वाद नए भारत के नए संस्कार गढ़ने में अहम है।

सौभाग्य से आज मुझे भी माता अहिल्याबाई के संकल्प के साथ, काशी के लाखों जनों और देश के करोड़ों लोगों की भावनाओं के साथ खुद को जोड़ने का मौका मिला है। थोड़ी देर पहले ही बाबा के दिव्य प्रांगण को भव्य स्वरूप देने के काम का शुभारंभ किया गया है।

हमारी सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए पूरी तरह से समर्पित है। जन्म से लेकर जीवन के हर चरण में बेटियों और बहनों की रक्षा, सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए तमाम योजनाएं आज चल रही हैं।

महिलाएं गांव में हो या शहर में, उन्हें उद्यमिता के अवसरों मिलने में परेशानी न हो, इसका भी ध्यान रखा जा रहा है। मातृत्व अवकाश को 12 हफ्ते से बढ़ाकर 26 हफ्ते करने का फैसला भी हमारी ही सरकार द्वारा लिया गया है।

बच्चों को सोलर लैंप देने की एक मुहिम हमने शुरू की है। आप जैसे अनेक सेल्फ हेल्प ग्रुप को इन सोलर लैंप्स को बनाने और फिर बांटने की जिम्मेदारी दी गई है। 12 लाख लैंप बच्चों तक पहुंचाए जा चुके हैं।लाखों छात्रों के जीवन से अंधेरा तो छंटा ही है, बहनों को कमाई का साधन भी मिला है।

पिछले वर्ष सहकारिता के क्षेत्र में 31 लाख से ज्यादा महिलाओं को ट्रेनिंग दी गई। हमारी सरकार ने तय किया है कि किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा भी पशुपालकों को दी जाएगी।देशभर में 15 करोड़ मुद्रा लोन दिए गए हैं इनमें से 11 करोड़ से अधिक महिला उद्यमियों को मिले हैं। उत्तर प्रदेश में भी सवा करोड़ से अधिक बिना गारंटी के ऋण दिए गए हैं जिसमें से करीब 86 लाख महिलाओं ने लिए है।

You may have missed