वाराणसी : पीएम के सपनो का बनारस स्वछता में 41 पायदान नीचे खिसका

वाराणसी : एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वछता को लेकर जागरूक कर रहे है। वही पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी स्वछता के मामले में 41 पायदान नीचे चला गया है। स्वछता सर्वेक्षण 2019 के आधार लर देश मे सबसे स्वच्छ व साफ शहरों के नामो का ऐलान बुधवार को राष्ट्रपति भवन से किया गया है।

जिसमे सबसे स्वच्छ और साफ शहर का खिताब लगातार तीसरी बार इंदौर को मिला है। वही राजधानी के वर्ग में भोपाल को सबसे स्वच्छ मन गया है। वही वाराणसी प्रदेश में भी तीन पायदान गिरकर चौथे स्थान पर आ गया है। जबकि लगातार दो साल तक वाराणसी प्रथम स्थान पर रहा था।

वाराणसी को देश मे 70वें और प्रदेश में चौथा स्थान

वाराणसी शहर को इस बार देश मे 70वें और प्रदेश में चौथा स्थान मिला है। सर्वेक्षण 2017 में 32वें व 2018 में 29वें स्थान पर वाराणसी रहा था।वही सर्वे के दौरान छत्तीसगढ़ को बेस्ट परफार्मेंस स्टेट अवार्ड से नवाजा गया। वगी 10 लाख से आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद और 5 लाख से कम आबादी वाले शहरों में उज्जैन पहले स्थान पर रहे।

सर्वे में रहे ये स्थान अव्वल

सबसे स्वच्छ शहर : इंदौर

सबसे स्वच्छ राजधानी : भोपाल

सबसे स्वच्छ बड़ा शहर : अहमदाबाद(10 लाख से ज्यादा आबादी वाला)

सबसे स्वछ मध्यम आबादी शहर : उज्जैन(3-10 लाख से कम आबादी)

सबसे स्वच्छ छोटा शहर : एनडीएमसी दिल्ली(3 लाख से कम आबादी)

सबसे स्वच्छ कैंटोनमेंट : दिल्ली कैंट

सबसे स्वच्छ गंगा टाउन : गौचर, उत्तराखंड,

प्रदेश में स्थान

प्रथम : गाजियाबाद

दूसरा : कानपुर

तीसरा : झांसी

चौथा : वाराणसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *