April 11, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

जौनपुर : पेट्रोल पम्प मालिको से साथ एसपी ने की बैठक, दिए सुरक्षा के दिशा-निर्देश…

पेट्रोल पम्प मालिकों के साथ बैठक करते एसपी

जौनपुर : पुलिस लाइन में शनिवार को पुलिस अधीक्षक जौनपुर के द्वारा पेट्रोल पम्प मालिकों के साथ की गयी बैठक की गई। जिसमे लूट/डकैती व अन्य घटनाओं से बचाव के उपाय एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

एसपी आशीष तिवारी, जौनपुर

जिले में नागरिकों को सुरक्षा एवं सतर्कता तथा अपराध व अपराधियों के नियंत्रण हेतु के लिए पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने शनिवार को पुलिस लाइन सभागार में पेट्रोल पम्प मालिकों के साथ एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के सभी पेट्रोल पम्प मालिकों को सुरक्षा सम्बंधी सावधानियाँ और दिशा-निर्देश निर्गत किये गये हैं। जिनका पालन कर पेट्रोल पम्प मालिक अपनी एवं धन की सुरक्षा कर सकते हैं।

इस दौरान बैठक में उन्होंने कहा

  • सभी अपने पेट्रोल पम्प के अन्दर व बाहर सीसीटीवी कैमरा अवश्य लगवा लें, जो आपकी सुरक्षा के लिए अति आवश्यक हैं।
  • पेट्रोल पम्प मालिकों को अकेले आने-जाने के लिए मना किया गया तथा ज्यादा से ज्यादा चार पहिया गाड़ी का उपयोग आन-जाने के लिए करें
  • जब भी ज्यादा पैसा बैंक में जमा करने जाना हो उससे पहले अपने क्षेत्र के चौकी इन्चार्ज को जरुर बतायें,जिससे आपकी सुरक्षा की जा सके।
  • पेट्रोल पम्प मालिक अपने पेट्रोल पम्प पर कार्यरत कर्मचारियों की मीटिंग लेकर सुरक्षा सम्बन्धी सूचना को ब्रीफ करें व उन्हे पुलिस अधिकारी/कर्मचारी को नम्बर याद करायें।
  • सभी पेट्रोल पम्प पर अग्निशमन यंत्र अवश्य हो तथा उसको समय-समय पर चेक कराते रहे की वह सही तरीके से कार्य कर रहा है या नही।
  • पेट्रोल पम्प पर सुरक्षा के दृष्टिगत मालिक हो सके तो निजी गार्ड की नियुक्ति जाँच परख कर करें।
  • पेट्रोल पम्प मालिक अपना व अपने सुरक्षागार्डो के असलहा अपने पास रखें,उसे जमा न करायें।
  • किसी भी आपराधिक सूचना के लिए मेरे व्हाट्सअप नं0 8004143000 पर व्हाट्सअप कर दें।
  • पुलिस और आप सब के बीच आच्छा समन्वय होना चाहिए जिससे दोनों को लाभ मिलेगा।अपराध नियंत्रण में असानी होगी।
  • पेट्रोल पम्प के दीवारों पर पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों के मोबाइल नम्बर जरुर लिखवायें।
  • किसी घटना के घटित होने पर त्वरित दूरभाष द्वारा स्थानीय पुलिस अधिकारियों ,जिला अथवा नगर नियंत्रण कक्ष को घटना का विवरण,घटना करने वाले अपराधी का हुलिया,पहने हुए कपड़े ,प्रयोग के लिये वाहन का नम्बर आदि से सूचित करना चाहिये।

इसके साथ ही एसपी आशीष तिवारी ने आपातकाल में उपयोगार्थ जिला पुलिस अधिकारियों के सम्पर्क नम्बर एवं कन्ट्रोल रुम, महिला हेल्प लाइन, फायर बिग्रेड, एम्बुलेन्स के नम्बर भी अंकित कराये गये हैं।

You may have missed