वाराणसी : दहेज न मिलने पर पत्नी को घर से निकाला, सड़क पर ही शौहर ने दिया तीन तलाक

वाराणसी : मोदी सरकार ने भले ही तीन तलाक पर रोक के लिए कानून बना दिया है लेकिन उसके बाद भी तीन तलाक का दानव मुस्लिम महिलाओं को सता रहा है मामला पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से जुड़ा है।

वाराणसी के एसएसपी कार्यालय में सोमवार को एक युवती प्रार्थना पत्र लेकर पहुंची। युवती का आरोप है कि दहेज में 10 लाख रुपये की मांग पूरी न होने पर उसके शौहर ने सरेराह तलाक दे दिया। एसएसपी कार्यालय के डे पुलिस अफसर ने इंस्पेक्टर लंका को जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया है।

मंडुवाडीह थाना के बौलिया लहरतारा क्षेत्र में रहने वाली युवती के अनुसार, वर्ष 2015 में उसका निकाह नरिया क्षेत्र के रोहित नगर निवासी युवक से हुआ था। निकाह के बाद से ही उसे ससुराल में दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था।

आरोप है कि इसी बीच उसने एक बच्ची को जन्म दिया तो और ज्यादा प्रताड़ित किया जाने लगा। कुछ और दिनों बाद पता लगा कि उसका शौहर एक अन्य युवती के संपर्क में है। उसने इसका विरोध किया तो उसे मारापीटा गया।

महिला का कहना है कि दिसंबर 2019 में उसने एक बेटे को जन्म दिया तो उसे लगा कि शायद अब सब कुछ सामान्य हो जाए। इसके बाद भी कुछ ठीक नहीं हुआ। इस बीच पति ने मायके से 10 लाख रुपये मंगाने के लिए मारना-पीटना शुरू कर दिया तो उसने पुलिस से शिकायत की। मामला मीडिएशन सेंटर भेजा गया।

आरोप है कि 26 फरवरी को वह मीडिएशन सेंटर से बाहर निकली तो उसके साथ मारपीट की गई। इसके बाद शौहर ने तीन बार तलाक कह कर उसे भगा दिया। युवती ने शौहर पर कार्रवाई के साथ खुद और दोनों बच्चों के भरण-पोषण की व्यवस्था की मांग की है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *