वाराणसी : 9 बजकर 9 मिनट दीपक जलाने पर छिपा है ज्योतिष का यह दुर्लभ संयोग, आखिर इसलिए पीएम ने चुना यह समय…

वाराणसी : कोविड-19 के जंग को लड़ने के लिए हर कोई तैयार है ऐसे में भारत को 21 दिनों के लिए लॉक डाउन किया गया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक वीडियो संदेश जारी किया था। जिसमें उन्होंने पूरे देश के लोगों से आवाहन किया कि आप रविवार 5 अप्रैल को 9 बजे 9 मिनट तक पर दीप मोमबत्ती टॉर्च या फ्लैश लाइट जलाएं आइए हम जानते हैं कि ज्योतिष इस पर क्या कहता है।

वाराणसी के प्रसिद्ध ज्योतिष पंडित हरेंद्र उपाध्याय ने बताया की ज्योतिष का दो भाग है दोनों तरफ से की मैंने देखा है रात 9 बजे रविवार की कुंडली बनाई गई जिसमें राहु देश के धन भाव कुटुंब भाव जनता भाग्य पर बैठा हुआ है और शनि जो हैं इस देश के और मंगल भाग्य भवन पर बैठे है। शनि और राहु दोनो जो है इस देश के रोग भाव ओर देख रहे हैं। इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आप 9 मिनट तक अंधेरा कीजिये इसलिए की पूर्ण दृष्टि से राहु भी रोग भाव को देख रहा है और शनि भी देख रहे है, तो शनि और राहु अंधकार होने से खुश होंगे तो इन्होंने कहा 9 मिनट आप अंधेरा कर दीजिए। दूसरी चीज पीएम ने कहा कि दीपक जलाइए प्रकाश कीजिए।

पंडित हरेंद्र उपाध्याय

मंगल की जो है दो दृष्टि पड़ रही हैं एक दृष्टि से वो निच्च भाव को देख रहा है हिंदुस्तान के पराक्रम को और दूसरे से सुख भाव को देख रहा है, तो दीपक जलाने से मंगल जो है अग्नि का प्रतिनिधित्व करता है। प्रकाश का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए यदि हम दीपक जलाते है, तो मंगल प्रसन्न होंगे, दीपक जलाते है तो चंद्रमा जो है हमारा मनोबल ठीक होगा। दूसरी चीज ज्योतिष के अंक विज्ञान के अनुसार आइए तो 9 नम्बर जो है मंगल का नम्बर है। 9 बजे रात को 9 मिनट तक अर्थात मंगल की दो दृष्टि है। एक दृष्टि से वो नुकसान कर रहा है और एक दृष्टि से वो फायदे कर रहा है। अब दूसरी चीज है कि शनि और राहु प्रसन्न होंगे जब अंधकार होगा किया जाएगा तो और मंगल को बलवान करना है। मंगल अग्नि का कारक है इसलिए दीपक जलाना है। प्रकाश करना है किसी भी चीज से चाहे मोमबत्ती का हो देशी घी का हो।

इससे उत्तम तो यह है कि यदि तेल का दीपक जलाते है, तो उसमे लौंग के साथ-साथ रोरी भी डाला जाए तो ये ज्यादे उत्तम है। देशी घी का दीपक जलाते है तो उसमे कपूर के साथ-साथ इत्र भी डाल दीजिए एकाक बूंद इससे जो है शुक्र प्रसन्न होंगे और चंद्रमा भी प्रसन्न होंगे और दीपक जलाने से जो है विल पॉवर में भी बढोत्तरी भी होंगी। मनोबल अच्छा रहेगा और चंद्रमा जो है स्वास का कारक है चंद्रमा जो है फेफड़े का कारक है, तो इससे भी चंद्रमा को उसको बल मिलेगा। मनोबल बढ़ेगा, मंगल ग्रह भी बलवान होगा जो मंगल सिंह राशि को देख रहा है अपने मित्र को देख रहा है। अपनी सुख की वृद्धि भी अच्छी होंगी और रक्त विकार भी दूर होगा मंगल के बलवान होने से।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *