May 9, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : PM Modi ने 614 करोड़ रुपए से अधिक की विकास परियोजनाओं का वर्चुअल माध्यम से किया शिलान्यास व लोकार्पण

वाराणसी। काशी के सांसद और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वाराणसी में 614 करोड़ रुपए से अधिक की विकास परियोजनाओं का वर्चुअल माध्यम से शिलान्यास व लोकार्पण किया। इस कड़ी में उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जगह में 3 जिले में तीन लोगों से संवाद भी किया। जिसमें चांदपुर इंडस्ट्रियल इस्टेट में विपिन अग्रवाल वही संपूर्णानंद स्पोर्ट्स स्टेडियम में 3260000 से बनाए चेंजिंग रूम पर उद्घाटन के मौके पर खिलाड़ी से भी बात की।

इसके साथ ही स्मार्ट सिटी के तहत भैरवनाथ में हो रहे गलियों के वार्ड के लोगों से बात की। काशी में हो रहे विकास कार्यों के बारे में लोगों को जानकारी दी और उन्होंने कहा कि काशी ने सदैव मुझे कुछ देने की कोशिश की है और बाबा विश्वनाथ की कृपा से मैं काशी के विकास कार्यों पर जितना हो सकता है उतना कार्य कर रहा हूं उन्होंने सभी काशीवासी और देशवासियों को दीपावली के अवसर पर शुभकामनाएं दी। इस दौरान उन्होंने लोकल वोकल की लोगों से अपनाने की अपील की और कहा कि देश में बन रहे सामानों का अधिक से अधिक पर प्रयोग कर यहां के युवाओं के हाथों को मजबूत करें और लोकल फॉर वोकल को बढ़ावा दें।

वही इंडस्ट्रियल स्टेट में बात करने वाले विपिन अग्रवाल ने कहा कि आज जिस तरह से प्रधानमंत्री ने इतनी बड़ी धनराशि की योजनाओं के विकास पर हम लोगों से चर्चा की निश्चित ही यह पल हम लोगों को गौरवान्वित करता है और काफी दिनों से वह बनारस नहीं आए थे इस कारण आज वर्चुअल माध्यम से उन्होंने बनारस के लिए इतना बड़ा काम करने के साथी हम लोगों से बात की जिसे हम लोगों की बहुत खुशी है और हम आम प्रधानमंत्री का धन्यवाद दिया।

उन्होंने कहा कि इंडस्ट्रियल स्टेट में पिछले कई वर्षों से सड़क को लेकर इंडस्ट्रीज को काफी दिक्कतें हो रही थी काफी सरकारों से इस पर बात की गई लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया वर्तमान सरकार ने हमारी समस्याओं को समझा और आज रोड का शिलान्यास किया गया। कल तक इस जगह पर केवल एक ही ट्रक आ जा सकते थे लेकिन आज रोड चौड़ी होने के कारण आमने सामने से गुजर सकेंगी जिससे जहां हम लोगों को सहूलियत होगी वही यहां आने वाले बायर भी इंफ्रास्ट्रक्चर के कारण आने में आनाकानी करते थे अब वह नहीं कतराएंगे।