वाराणसी : BHU के दृश्य कला संकाय पहुचीं मिस इंग्लैंड डॉ० भाषा मुखर्जी, छात्र-छात्राओं के खिल उठे चेहरे

वाराणसी : काशी हिंदू विश्वविद्यालय(बीएचयू) के दृश्य कला संकाय में पहुचीं भारतीय मूल के निवासी और मिस इंग्लैंड डॉ० भाषा मुखर्जी अपने बीच पाकर छात्र-छात्राओं के खिल उठे चेहरे, बीएचयू के दृश्य कला संकाय में मिस इंग्लैंड को देखकर हर कोई चकित रह गया। छात्र-छात्राओं ने अपने बीच में मिस इंग्लैंड को पाकर जमकर उनके साथ सेल्फी लिया। डॉ० भाषा मुखर्जी ने दृश्य कला संकाय के स्टूडियो को देखा छात्र-छात्राओं द्वारा बनाए गए पेंटिंग पर कलम चलाए।

इस दौरान बीएचयू के प्रोफेसर ने मिस इंग्लैंड डॉ० भाषा मुखर्जी की लाइफ पेंटिंग भी बनाया। इस सम्बंध में बीएचयू के शोध छात्र मिठाई लाल ने बताया कि आज हमारे बीच में मिस इंग्लैंड पधारी हुई है। जो बेहद ही खास अवसर है और वो भारत भ्रमण पर हैं इस समय वो भारतीय मूल की है और ये ऐतिहासिक पल है कि क्योकि भारतीय मूल की पहली महिला मिस इंग्लैंड 2019 बनी हुई है। ये विशेष कार्यक्रम बच्चों के लिए किया गया हैं। क्योंकि यहां पर विविध कलाओं से बच्चे इकठ्ठा हुए है और उनका हौशला अफजाई करने के लिए ही वो यहां पर उपस्थित हुई है तो ये हम सभी के लिए बहुत ही खास अवसर है और बनारस वालो के लिए भी खास अवसर है।

संकाय में आज उन्होंने स्टूडियो देखा फिर उसके बाद मूर्तिकला टेक्सटाइल डिपार्टमेंट का वो विजिट की बच्चों से वो मिली, चित्रकारों से मिली उनके साथ उन्होंने थोड़ा बहुत पेंटिंग भी लिया और उसके बाद यहां पर उनका कार्यक्रम चल रहा है और ये और एक सबसे महत्वपूर्ण है कि वो पेशे से डॉक्टर है वो डायबिटीज मरीजों के लिए बहुत सारा काम कर रही है जो अपने देश के प्रति उनको अपने मन में बहुत ही प्रेम है। जिसकों वो उजागर करने आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *