November 26, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : मंत्री रविंद्र जायसवाल ने रामलीला पात्रों के मुखौटे और घर-घर रामलीला पुस्तक व डिजिटल रामायण का लोकापर्ण किया

राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविन्द्र जायसवाल ने किया रामलीला पात्रों के मुखौटे,घर-घर रामलीला पुस्तक व डिजिटल रामायण का लोकार्पण

न्यूरोलॉजिस्टप्रो विजयनाथ मिश्र ने कहा कि प्रत्येकदिन 2 मिनट18 सेकेंड का वीडियो अपलोड किया जाएगा

वाराणसी : वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों पर विराम लग चुका है। इसी को लेकर डिजिटली लोगों तक वीडियो के माध्यम से रामलीला की अनुभूति कराने की कोशिश के तहत घाट वॉक @Ghatwalk ट्विटर हैंडल पर हर रोज दो मिनट का वीडियो प्रसारित करने का शुभारंभ राज्यमंत्री रविन्द्र जायसवाल (स्वतंत्र प्रभार) स्टाम्प एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क ने अपने आवास पर किया। इस दौरान मंत्री ने रामलीला के मुखौटे और घर-घर रामलीला पुस्तक का लोकार्पण भी किया।

अब घर-घर होगी रामलीला

इस संदर्भ में मंत्री रविन्द्र जायसवाल ने कहा कि गोस्वामी तुलसीदास जी ने भगवान श्री संकटमोचन जी के प्रार्थना में लिखा है कि यत्र-यत्र रघुनाथ कीर्तन तत्र कृत मस्तकान्जलि। वाष्प वारि परिपूर्ण लोचनं मारूतिं नमत राक्षसान्तक॥ अर्थात जहा किसी भी स्थान पर प्रभु राम की यश गायन होती है, वही-वही हनुमान जी अपने मस्तक को अंजलि बनाकर सर झुकाए राम कथा श्रवण करते है। प्रभु राम के नाम-गान को सुनकर उनकी आंखों में श्रद्धा के अश्रु परिपूर्ण हो जाते है। उन्होंने कहा कि बीएचयू के पूर्व चिकित्सा अधीक्षक एवं न्यूरोलाजी विभाग के प्रो. विजय नाथ मिश्र का यह प्रयास वास्तव में पहले लीला मोहल्ले-मोहल्ले में होती थी लेकिन अब घर-घर होगी, इस प्रयास से कठपुतली के प्रचार-प्रसार में भी बल मिलेगा।

सोशल मीडिया के माध्यम से होंगा भगवान का दर्शन

वही इसकी परिकल्पना करने वाले काशी हिंदू विश्वविद्यालय चिकित्सा विज्ञान संस्थान के न्यूरोलॉजिस्ट प्रो० विजयनाथ मिश्र ने कहा कि प्रत्येक दिन 2 मिनट 18 सेकेंड का वीडियो अपलोड किया जाएगा इससे सोशल मीडिया पर रामलीला का प्रचार-प्रसार तो होगा ही साथ ही वीडियो में कठपुतली का मंचन है, इससे कठपुतली और मुखौटा निमार्ताओं को कुछ दिनों के लिए रोजगार मिला। हम लोग रामलीला की भरपाई तो नही कर सकते लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से भगवान की मानसिक रुप से स्मरण किया जा सकेगा। वीडियो हर रोज 5 बजे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया जाएगा। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार अमिताभ भट्टाचार्या भी मौजूद रहे।

You may have missed