November 24, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : पुलिस मुठभेड़ में इनामिया बदमाश ढ़ेर, दो पुलिसकर्मी घायल

वाराणसी। लालपुर रिंग रोड के समीप वाराणसी पुलि‍स और बदमाशों के बीच रविवार की देर शाम मुठभेड़ हुई है। दोनों तरफ से हुई फायरिंग में मोनू चौहान नामक बदमाश को पुलि‍स की गोली लगी है, इलाज के दौरान मोनू की मौत हो गयी है। वही इस फायरिंग में दो पुलि‍सकर्मी भी घायल हो गए।

जनपद वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र के रिंग रोड पर रवि‍वार देर शाम बदमाशों और पुलिस में मुठभेड़ हुई। ये मुठभेड़ घड़ी व्यवसाई हत्याकांड में आरोपी 1 लाख का विचाराधीन इनामि‍या अपराधी मोनू चौहान और पुलिस के बीच हुई है।

इस दौरान मोनू चौहान की ओर से फायरिंग के जवाब में पुलि‍स की ओर से भी गोलि‍यां चलायी गयीं। इसमें मोनू को गोली लगी। घायल अवस्था में पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। अपराधी मोनू चौहान के क़ब्ज़े से एक पिस्टल 32 बोर, एक तमंचा, एक अपाचे मोटर साइकिल, भारी मात्रा में कारतूस बरामद हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस मुठभेड़ में चौकी प्रभारी राजकुमार पांडेय व क्राइम ब्रांच के कांस्टेबल विनय सिंह को भी गोली लगी है। इलाज के लिए उन्हें भी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

क्राइम ब्रांच और सारनाथ पुलिस को मुखबि‍र से सूचना मिली थी कि मोनू इस वक्त रिंग रोड पर मौजूद है। जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी की। इस दौरान दोनों तरफ से गोलियां चली हैं। मुखबि‍र की सूचना पर बदमाशों का पीछा करने के दौरान बदमाशों की ओर से की गयी फायरिंग के बाद पुलि‍स ने जवाबी कार्रवाई की। मौके पर एसपी सिटी वि‍कास चंद्र त्रि‍पाठी समेत कई थानों की फोर्स पहुंच चुकी है।

पुलि‍स के अनुसार कुख्यात अपराधी मोनू चौहान द्वारा दीपावली के समय 3 दिनों में वाराणसी में दो सनसनीखेज शूटआउट की घटना को अंजाम दि‍या गया था। इसने 13 नवंबर को घड़ी व्यापारी श्याम बिहारी मिश्रा की गोली मारकर हत्या की तथा दो दि‍न बाद 15 नवंबर को महिला प्रेमा राजभर को गोली मारकर घायल किया था।

पुलि‍स की मानें 2015 में वाराणसी के थाना कोतवाली क्षेत्र में कबीरचौरा में एसटीएफ की टीम से हुई एक मुठभेड़ में कुख्यात गैंगस्टर सनी सिंह मारा गया था, जिसमें मोनू चौहान भागने में सफल हो गया था। इसके विरुद्ध वाराणसी के विभिन्न थानों में लगभग डेढ़ दर्जन मुकदमे दर्ज हैं।