वाराणसी : कैंसर के इलाज में आहार की अहम भूमिकाः डॉ. सुभमायो दासगुप्ता

वाराणसी : काशी हिंदू विश्वविद्यालय(बीएचयू) के दुग्ध विज्ञान एंव खाद्य प्रौद्योगिकी विभाग के कृषि विज्ञान संस्थान में आएॅ अमेरिका के बफैलो विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक डॉ. सुभमायो दासगुप्ता ने  ‘आहार, मेटाबालिज्म और कैंसर’ विषय पर अत्यन्त सारगर्भित विशिष्ट व्याख्यान दिया।


जिसमें अतिथि व्याख्याता डॉ. सुभमायो दासगुप्ता ने उपचार के दौरान कैंसर रोगी के लिए आहार एवं मेटाबालिज्म की भूमिका और चिकित्सा प्रतिरोधी आक्रामक मेटास्टेटिक रोग को बढ़ावा देने वाले कारकों पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि मेटाबोलिक रिप्रोग्रामिंग टयूमर की प्रगति और मेटास्टेसिस की एक अनिवार्य भूमिका है। कैंसर कोशिकाएॅ तेजी से विकास करने और टयूमर माइक्रोएन्वायरमेंट में आने वाले भारी तनाव को दूर करने के लिए परिवर्तित मेटाबोलिज्म मार्गों का उपयोग करती है।

उन्होंने कहा कि, च्थ्ज्ञथ्ठ4 नामक एक एंजाइम प्रोटीनैतब 3 के सबसे प्रमुख नियामकों में से एक है। उन्होंने दवा से संबंधित उपचारों के साथ आहार चिकित्सा की भूमिका पर जोर दिया जो कैंसर के उपचार में एक महत्वपूर्ण प्रभाव दिखाता है । 

डॉ. सुभमायो दासगुप्ता का स्वागत विभागाध्यक्ष प्रोफेसर दिनेश चन्द्र राय ने किया और उनका संक्षिप्त परिचय प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में डॉ. सुभमायो दासगुप्ता के माता-पिता भी उपस्थित रहें और उन्हें भी पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया गया। 

कार्यक्रम के संयोजक डॉ. अभिषेक दत्त त्रिपाठी ने व्याख्यान के महत्व पर प्रकाश डालते हुए धन्यवाद ज्ञापन किया और कार्यक्रम का सफल संचालन डॉ. अंकिता हुड्डा ने किया।
व्याख्यान में विभाग एवं संस्थान के प्राध्यापक एवं छात्र उपस्थित रहेें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *