May 9, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : राज्यपाल ने आदर्श विकास खंड सेवापुरी का दौरा कर प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षा और आंगनवाड़ी केंद्रों का ली जायजा

वाराणसी। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अपने तीन दिवसीय वाराणसी दौरे के दूसरे दिन सेवापुरी विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय मटूका एवं अमिनी एवं इन्हीं विद्यालय परिसर में तथा इन्हीं विद्यालय परिसरों में स्थित आंगनवाड़ी केंद्रों निरीक्षण किया। मटुका आंगनवाड़ी केंद्र पर उन्होंने गर्भवती किरण, शकुंतला, नीलम एवं रीता का लाल चुनरी ओढ़ाकर, टीका लगाकर फल की टोकरी एवं पोषण पोटली देकर गोंद भराई का रस्म पूरा किया।

इसके साथ ही उन्होंने लाल श्रेणी के 08 कुपोषित बच्चों आदित्य, सूरज, सिपाही, रवि किशन, प्रशांत, उन्नति, अरसद एवं नूर आलम को पोस्टिक पोषण पोटली देकर शीघ्र स्वस्थ एवं पोषित होने की कामना की। गर्भवती महिलाओं की गोद भराई कर फल की टोकरी एवं पोषण पोटली देने के दौरान उन्होंने महिलाओं से इनका स्वयं सेवन करने का आग्रह करते हुए कहा कि जब आप स्वस्थ रहेंगी तभी स्वस्थ बच्चे को जन्म देंगी।

इससे पूर्व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल प्राथमिक मटूका का पहुंचने पर वहां के नंद घर में संचालित स्मार्ट क्लास का निरीक्षण किया तथा वहां पर पढ़ रहे 32 बच्चों से उनके पढ़ाई-लिखाई के संबंध में विस्तार से बात की। इस दौरान सहायक अध्यापिका द्वारा बच्चों द्वारा गाए जा रहे प्राथमिक शिक्षा से संबंधित गीत एवं अन्य गतिविधियां संचालित करने में किए जा रहे सहायता पर उन्होंने सहायक अध्यापिका से पूछा कि क्या बच्चे स्वयं इसे बोल सकते हैं। फिर क्या था बच्चे स्वयं शुरू हो गए, जिस पर उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की।

इस दौरान महात्मा गांधी का रूप धारण किए एक छोटे नन्हे बालक ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी द्वारा के कुछ वचनों को अपने तोतली आवाज में उन्हें सुनाया जिस पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल खुश होकर के सर पर हाथ रखते हुए चूमने लगी। इस दौरान स्मार्ट क्लास का 4 वर्षीय वृषभ द्वारा चेहरे पर लगाया गया मास्क चेहरे से हटकर नीचे लटक रहा देख राज्यपाल ने अपने हाथों उसके मास्क को चेहरे पर लगाया और कोरोना से बचने के लिए प्रेरित किया।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल इस स्मार्ट क्लास में हाथों में छड़ी लेकर दीवारों पर लिखे वर्णमाला एवं गिनती की अक्षरों को एक अध्यापिका की भांति पढ़ाते हुए बच्चों से उसकी पहचान कराते हुए बच्चों के ज्ञान को भी परखा। प्राथमिक विद्यालय मटूका में लगाए गए पोषण वाटिका को भी उन्होंने देखा और पर्यावरण के प्रति जागरूकता पर प्रसन्नता जताई।

राज्यपाल इसके बाद सीधे कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमिनी के स्मार्ट क्लास, लाइब्रेरी, ऑनलाइन क्लास के अलावा परिसर में ही स्थित आंगनवाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया। यहां पर छोटे-छोटे बच्चों ने उनके आगमन पर स्वागत गान गाया जिस पर वह मंत्रमुग्ध हो गई।

इसी दौरान जानकारी होने पर कि आंगनवाड़ी केंद्र पर आने वाली आराध्या एवं काव्या आज ही बर्थडे है। इस पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इन दोनों बच्चियों का केक काटकर जन्मदिन मनाया और अपने हाथों इन दोनों बच्चियों को केक खिलाया तथा गिफ्ट पोटली भेंट की। जिससे बच्चे खिलखिला उठे। यहां पर स्मार्ट क्लास के निरीक्षण के दौरान आनंदीबेन पटेल ने कंप्यूटर के माध्यम से स्क्रीन पर चलने वाले पाठ्य सामग्री को संचालित कराकर देखा।

इस दौरान कंप्यूटर चला रहे प्रशिक्षक से उन्होंने पूछा कि क्या इसे बच्चे स्वयं चला सकते हैं। जिस पर प्रशिक्षक द्वारा सकारात्मक जवाब दिये जाने पर उन्होंने संतोष व्यक्त किया। यहां पर भी उन्होंने लोगों को पोषण पोटली एवं लाल श्रेणी के कुपोषित बच्चों को पोषण पोटली उपलब्ध कराया। गर्भवती महिलाओं को टोकरी एवं पोषण पोटली देते हुए राज्यपाल आनंदीबेन ने महिलाओं से इनका स्वयं सेवन करने का आग्रह करते हुए कहा कि जब आप स्वस्थ रहेंगी तभी स्वस्थ बच्चे को जन्म देंगी।

अमिनी आंगनवाड़ी केंद्र पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने किशोरी पोषण संगिनियो के आग्रह पर उनके साथ सेल्फी भी खिंचाई। बता दे कि वाराणसी के विकासखंड सेवापुरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिशा- निर्देशानुसार नीति आयोग द्वारा देश का पहला आदर्श विकासखंड बनाया जा रहा है। इस विकासखंड के सभी ग्राम सभाओं में केंद्र एवं प्रदेश सरकार की समस्त योजनाओं को लागू कर क्रियान्वित किया गया है।

इस विकास खंड में शहरों की भांति संपूर्ण बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करायी गई हैं। निरीक्षण के दौरान मंत्री स्वाती सिंह, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।