November 24, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : डबल मर्डर से इलाके में हड़कंप, दिनदहाड़े 2 लोगों की गोली मारकर हत्या, एक घायल

वाराणसी : जनपद में बदमाशों के हौसले बुलंद है। शुक्रवार को सुबह डबल मर्डर से शहर में हड़कंप मच गया। जिलें के जैतपुरा थाना क्षेत्र के चौकाघाट इलाके में गोलियों की आवाज़ से गूंज उठा। पहले से ही घाट लगाकर बैठे बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दो लोगों की हत्या कर दी। वही एक अन्य शख्स घायल हो गया। जिसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवपुर थानाक्षेत्र के हटिया निवासी संजय सिंह और उनके साथी मृत्युंजय की मोटरसाइकिल से कही जा रहे थे। पहले से घात लगाकर बैठे बाइक सवार बदमाशों ने चौकाघाट स्थित काली माता मंदिर के पास पहुंचते ही उनको लक्ष्य कर फायर करना शुरू कर दिया। गोली लगने से संजय सिंह, दीपक सेठ व एक ट्राली चालक वाल्मीकि‍ गौतम घायल हो गया।

मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सभी को अस्पताल पहुंचाया। जहां संजय व वाल्मीकी को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दि‍या और आगे की कार्रवाई में जुट गई। घटना की सूचना पर एडीजी बृज भूषण और आईजी विजय सिंह मीना ने घटनास्‍थल का निरीक्षण किया और घायल से मिलने अस्पताल पहुंचे हैं। फिलहाल क्षेत्र में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

घटना के बारे में वाराणसी जोन के एडीजी बृज भूषण ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला रंजिश का लग रहा है। घटना के संदर्भ में एडीजी बृजभूषण ने बताया कि जैतपुरा थाना क्षेत्र के चौकाघाट स्थित काली मंदिर के पास दो व्यक्ति बाइक से जा रहे थे। एक का नाम अभिषेक सिंह उर्फ़ प्रिंस जो पीछे बैठा था और का नाम दीपक गोंड है जी ड्राइव कर रहा था। तभी पीछे से बाइक सवार दो बदमाश आये और गोली चलाई जिसमें अभिषेक को गोली लगने पर जब वह गिर पड़ा तो बदमाशों ने फिर उनपर गोली चलाई। इसी दौरान गोली ट्रॉली चालाक बाल्मीकि को लगी और उसकी मौत हो गई। साथ ही गोली लगने पर अभिषेक की भी मौत हो गई। ड्राइव करने वाला दीपक घायल है।

एडीजी ने बताया कि मृतक अभिषेक के खिलाफ भी कई मुक़दमे दर्ज हैं वह हत्या के आरोप में जेल भी जा चूका है। इसके साथ ही कई मुकदमें दर्ज हैं। अभिषेक की कई व्यक्तिगत रंजिशें भी चल रही थीं। अभिषेक के मोबाइल कॉल्स और व्हाट्सअप चैट्स की जाँच की गई है। जिसमें नार्कोटिक्स और आर्म डीलिंग की बातें भी सामने आई हैं। उम्मीद है कि साक्ष्यों के आधार पर जल्द ही मामले का खुलासा किया जायेगा।

एडीजी ने बताया की जाँच जारी है बदमाशों की पहचान भी जल्द ही कर ली जाएगी। एडीजी ने आशंका जताई है कि जाँच में जो भी साक्ष्य मिले हैं उनके आधार पर घटना का कारण भी अभिषेक की आपसी रंजिश है। कुछ सालों पहले अभिषेक अपने ही रिश्तेदार की हत्या के आरोप में जेल गया था घटना का सम्बन्ध इससे भी हो सकता है। जाँच के बाद ही सही कारण स्पष्ट हो पायेगा।

यहां देखे वीडियो