वाराणसी : सीएम ने किया आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण

वाराणसी : एक दिवसीय दौरे पर शनिवार को वाराणसी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहर के पंडित दीन दयाल उपाध्याय राजकीय जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने नोवेल कोरोना वायरस-19 के संदिग्ध मरीजों के लिए अस्पताल में बनाये गये आइसोलेशन वार्ड को भी देखा। उन्होंने मौके पर मौजूद डॉक्टर से आइसोलेशन वार्ड में दी गई सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।

इस दौरान मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के 75 जनपदों में कोरोना वायरस के मरीजों के लिए 10-10 बेड के आइसोलेशन वार्ड तैयार किये गए हैं। कुल 1268 बेड के आइसोलेशन वार्ड प्रदेश में बनाये गये हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अभी तक 11 मरीज नोबेल कोरोना वायरस-19 से पीड़ित मिले हैं, जिनमे 10 सफदरगंज अस्पताल में और एक व्यक्ति का लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है।

सीएम योगी ने बताया कि प्रदेश में नोवेल कोरोना वायरस-19 की जांच के लिए केंद्र सरकार की मदद से 5 लैब स्थापित किये गये हैं। इसमें दो लैब लखनऊ में संजय गांधी पीजीआई और एक किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में, एक वाराणसी के बीएचयू में, एक अलीगढ़ में और एक गोरखपुर में स्थापित की गयी है। प्रदेश सरकार इस वायरस से जनता को बचाने के लिए पूरी तरह सतर्क है और प्रदेश में तरह तरह के जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

हाथ मिलाने की जगह करें नमस्कार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सभी परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार हैं। आम जनता से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि ज्यादा जरुरत हो तभी लोग भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर जाएं।एक दूसरे से हाथ मिलाने के बजाए भारतीय शिष्टाचार के अनुरूपनमस्तेकरें और हाथ जोड़कर एक दूसरे का अभिवादन करें। उन्होंने कहा कि सभी लोग अपने हाथ को बार बार धोएं और उसे साफ रखें।

इंटरनेशनल यात्रियों पर विशेष नजर

इसके अलावा उन्होंने बताया कि हम पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थानों खासकर लखनऊ, आगरा और वाराणसी में आने वाले इंटरनेशनल पैसेंजर्स पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। इसके अलावा नेपाल बार्डर और एनसीआर पर भी हमारा विशेष ध्यान हैं।

देखें वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *