March 3, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : कोरोना महामारी के बीच परीक्षाएं कराने के विरोध में 19 दिनों से सत्याग्रह पर बीएचयू का छात्र

वाराणसी : वैश्विक महामारी के दौरान काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में प्रवेश परीक्षाएं शुरू हो गयी है। इन सबके बीच परीक्षाएं कराने के विरोध में बीएचयू में सत्याग्रह पर बैठा एक छात्र बीते 19 दिनों से धरने पर बैठा हुआ है। इस महामारी के दौरान छात्र ने अपनी बीएचयू प्रवेश परीक्षा का बहिष्कार कर दिया है।

इस संदर्भ में छात्र नीरज ने कहा “मैं विगत 13 अगस्त से महामारी के दौरान परीक्षाएं कराने के विरोध में सत्याग्रह पर बैठा हूँ। मेरी मांग है कि महामारी के बीच परीक्षाएं न आयोजित की जाए। लेकिन सरकार छात्रों के हित, उनके व उनके परिजनों के स्वास्थ्य को नज़रन्दाज़ करके महामारी के बीच परीक्षाएं आयोजित कर रही है।

ऐसे में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय अपनी प्रवेश परीक्षाएं 24 अगस्त से ले रहा है, जबकि प्रवेश परीक्षा में अधिकांश छात्र अनुपस्थित हो रहे हैं। कारण साफ है कोरोना का बढ़ता संक्रमण, लॉकडाउन, यातायात की अनियमित व असुरक्षित व्यवस्था, बिहार-असम-बंगाल व अन्य राज्यों में भयंकर बाढ़ की स्थिति है। कोरोना संक्रमित छात्रों के लिए कोई अलग से परीक्षा लेने का इंतज़ाम नहीं हैं। प्रशासन इन्हें परीक्षा नहीं देने दे रहा है, ऐसे लाखों की संख्या में छात्र हैं जो परीक्षाएं नहीं दे पा रहे।

जो छात्र इस प्रवेश परीक्षा में शामिल हो भी पा रहा है वह परीक्षा केंद्र पर अव्यवस्था को बता रहा है। परीक्षा केंद्रों पर न तो सोशल डिस्टेनसिंग की व्यवस्था है न तो साफ-सफाई की। इन परीक्षार्थियों को यात्रा के दौरान अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिसमें रहने-खाने के साथ साथ संक्रमण का खतरा भी बना हुआ है। ऐसे में मैंने महामारी के बीच अपनी प्रवेश परीक्षा का बहिष्कार करने का फ़ैसला किया है।

नीरज ने बताया कि मैं उन लाखों छात्रों के साथ हूँ जो परीक्षा देने में असमर्थ हैं। जब तक इन छात्रों के साथ न्याय नहीं हो जाता मैं इनके साथ हूँ और इन छात्रों के साथ ही अपनी परीक्षा दूंगा। महामारी के बीच परीक्षा का बहिष्कार करना मेरा व्यक्तिगत निर्णय है। जो परीक्षा दे रहें हैं उनको शुभकामनाएं।

You may have missed