December 2, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : कलाकारों ने अपनी रचनाओं के जरिए कोरोना का भयानक चेहरा दिखाते हुए जन-जन को किया जागरूक

वाराणसी : देशभर में कोरोना वायरस को लेकर खौफ है। जिसकों लेकर देश-दुनिया में जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। वहीं काशी में कलाकार अपनी रचनाओं के जरिए रंग, ब्रश से कोरोना का भयानक चेहरा दिखाते हुए जन जन को जागरुक कर रहे हैं। बता दे कि कोरोना वायरस के चलते स्कूल-कॉलेज बंद हैं।

फ्रीलांसर कलाकार जो आउटडोर स्केचिंग किया करते थे, वह भी इस वक्त संभव नहीं हो पा रहा है। न कोई सेमिनार न संगोष्ठी। सारे आयोजन रद्द हो रहे हैं। वहीं फ्रीलांसर कलाकारों के भी आर्डर रद्द हो गए हैं। खाली वक्त में एक खीझ इन चित्रकारों के चेहरे पर दिखाई दे रही है जिसका कारण कोरोना वायरस है।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय(बीएचय) के दृश्य कला संकाय की प्रो. उत्तमा दीक्षित ने बताया हम कलाकारों का ग्रुप है जो सोशल मीडिया पर एक्टिव है। कोरोना से लोगों को बचाने के लिए हम सभी चित्रों का सहारा ले रहे हैं। इस मुहिम में कलाकार भी अपना योगदान दे रहे हैं। इस ग्रुप में प्रोफेसर, फ्रीलांसर चित्रकार, शोधरत छात्र शामिल हैं। हम लोग कोरोना वायरस पर मिक्स मीडिया यानी ड्राई पेस्टल, चारकोल, एक्रेलिक, ऑयल सहित डिजिटल मीडिया में भी चित्र बनाकर इसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर कर रहे हैं। चित्रों में तरह-तरह के संदेश भी लिखे जा रहे हैं। हमारा उद्देश्य केवल लोगों को कोरोना से बचाना है। फेसबुक, वाट्सएप सहित विभिन्न सोशल मीडिया पर ये भेजे जा रह हैं।

इसमें प्रो. ललित मोहन सोनी सहित फ्रीलांसर व शोधरत छात्र मिठाई लाल, योगेश रवि, नेहा वर्मा, दिप्ती शर्मा, अविनेश मिश्रा, शांभवी, संदीप प्रजापति, अजय प्रकाश, अनिल कुमार गुप्ता, विनीता वर्मा, सुनील कुमार पटेल, सोनू कुमार, चंदन सिंह, श्रेया सिंह, सिद्धीदात्री मिश्रा, दिशा मिश्रा, नेहा साहा सहित कई कलाकार हैं जो इस मुहिम को चला रहे हैं।

अन्य तस्वीरें