वाराणसी : परीक्षा स्थगित कराने की मांग को लेकर AAP की छात्र विंग ने सिंहद्वार पर किया प्रदर्शन, शिक्षा मंत्री की सदबुद्धि के लिए किया हवन-पूजन

वाराणसी : वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बीच जेईई और नीट की परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग लगातार छात्रों और पार्टियों द्वारा की जा रही है। सोमवार को आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई ने CYSS द्वारा बीएचयू के सिंहद्वार पर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान आम आदमी पार्टी CYSS इकाई द्वारा शिक्षा मंत्री, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को सदबुद्धि के लिए हवन-पूजन किया गया।

इस संदर्भ में कुलदीप तिवारी “क्रांतिकारी” ने बताया कि आज हम लोग शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ के सदबुद्धि के लिए हवन पूजन किये है। हम लोगों की यही मांग है कि जो NEET JEE के 25 लाख छात्रों का भविष्य है। जहां इस वैश्विक महामारी प्रतिदिन 75 हजार से अधिक कोरोना कर मरीज निकल रहे है, तो ऐसे सरकार की व्यवस्था के तहत उनके परीक्षा केंद्र पहुचाने का काम करेंगी।

कुलदीप ने कहा हमारा सरकार से यह सवाल है कि जब कुछ प्रदेशो में लॉकडाउन है सारा स्कूल कॉलेज, संसद सब बन्द है तो ऐसे में छात्रों के साथ ऐसा व्यवहार क्यो किया जा रहा है। अगर एक भी छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए तो सरकार क्या रवैया अपनाएगी। ये परीक्षा दो बार होता है तो यदि मान लीजिये कोई परीक्षार्थी पहली बार में जो ना पहुंच सके। जो पहुचा है वो दूसरे बार पहुच सके पास हो जाये तो सरकार क्या नियम अपनाएगी। हमारी मांग यही है कि यह परीक्षा पोस्टपोंड किया जाए। एक महीने 2 महीने के लिए किया जाए।

कुलदीप ने कहा मोदी जी मन की बात करते है। स्टूडेंट्स की बात नही सुनते मैं मोदी जी को चेता देना चाहता हु ये बनारस है मोक्ष का द्वारा है। यदि आप ऐसे छात्रों के साथ व्यवहार करेंगे। ये जो तमाम घाट उस हम लोग उनका अंतिम संस्कार करने का काम करेंगे। और हम दावे के साथ कह रहे है हमको किसी प्रकार का कोई डर नही है। यदि यह परीक्षा पोस्टपोंड नही किया गया तो हम लोग आगे भी अनशन, प्रदर्शन, आत्मदाह सब कुछ करेंगे कि सरकार हमारी बात सुने। जब तक हमारी मांगे नही होती हम लोगो ऐसे ही आंदोलन जारी रखेंगे। नरेंद्र मोदी जी को मन की बात छोड़कर स्टूडेंट्स की बात करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *