April 10, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : PM के स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए हम लोग जन-जन को जोड़कर कार्यक्रम कराते रहेंगे-कमिश्नर

वाराणसी। गंगा किनारे के 84 घाटों पर रविवार को सुबह सात से आठ बजे तक एक साथ सफाई महाअभियान चलाया गया। इसके लिए 2000 से ज्यादा लोग श्रमदान में जुटे रहें। इससे पहले नवंबर 2014 में भाजपा महानगर की ओर से महाअभियान चलाकर 84 घाटों की सफाई की गई थी।

उस दौरान पीएम मोदी ने अस्सी घाट पर फावड़ा चलाकर देशव्यापी स्वच्छता अभियान की शुरुआत की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गंगा स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन ने प्रथम चरण में संत रविदास घाट से राजघाट तक के 84 घाटों पर रविवार को स्वच्छता अभियान चलाया। जिसका नेतृत्व वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल तथा जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने किया।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देशन में एक बार फिर नगर निगम ने सभी घाटों की सफाई का बीड़ा उठाया गया। इसके लिए डीएफओ को समन्वयक बनाया गया। नगर निगम ने एक सफाई सुपरवाइजर पर 10 सफाईकर्मियों का जिम्मा सौंपा गया। इसमें नगर निगम के 700 कर्मचारी व ग्रामीण क्षेत्र के 600 सफाईकर्मियों सहित स्वयंसेवी संस्थाओं के करीब 700 लोग सहभागी रहे। घाटों पर पांच बाई पांच मीटर का ब्लाक एक-एक सुपरवाईजर के जिम्मे रहे।

घाटों की सफाई के साथ ही गंगा में जहां तक नाव लगती है, वहां तक पानी से फूल-मालाओं को निकाला गया। सभी घाटों से कचरा नाव में रखकर खिड़किया घाट लाया जाएगा, जहां से निस्तारण के लिए इसे करसड़ा प्लांट भेजा जाएगा। कचरा निस्तारण का प्रभारी नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. एनपी सिंह को बनाया गया। निगरानी के लिए अस्सी घाट पर आला अधिकारी मौजूद रहे।

वहीं पहले की स्थिति व सफाई के बाद की स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए ड्रोन से फोटोग्राफी एवं वीडियोग्राफी कराई गई। नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. एनपी सिंह के मुताबिक नगर निगम इस अभियान को स्वच्छता सर्वेक्षण के मद्देनजर कर रहे है। इसका  मकसद गंगा की सफाई और इसके प्रति लोगों को जागरुक करना हैं।

समाजसेवी संस्थाओं ने जिला प्रशासन के साथ की सफाई और चलाया जागरूकता अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गंगा स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन ने प्रथम चरण में संत रविदास घाट से राजघाट तक के 84 घाटों पर रविवार को स्वच्छता अभियान चलाया। जिसका नेतृत्व वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल तथा जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने किया।

इस कार्यक्रम में सभी विभाग के अधिकारियों ने स्वच्छता अभियान में भाग लिया। अस्सी घाट पर कार्यक्रम का संचालन सृजन सामाजिक संस्था के चेयरमैन अनिल सिंह ने किया तथा रैली निकालकर जागरूकता अभियान भी चलाया। नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर एनपी सिंह ने घाटों पर स्वच्छता अभियान का निरीक्षण किया।

इस अवसर पर नमामि गंगे, मालवीय मिशन ,ब्रम्ह्वेद विद्यालय ,काशी फाउंडेशन सहित अन्य सामाजिक संस्थाओं ने स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लिया।स्वच्छता कार्यक्रम में किन्नर समाज ने भी घाट और गंगा में सफाई किया। इस अवसर पर महिलाएं तथा काशी के संभ्रांत लोगों में स्वच्छता अभियान में हाथ बंटाया।अधिकारियों ने लोगों से अपील किया कि महीने में सिर्फ एक घंटे श्रमदान से तस्वीर बदल जाएगी। अस्सी घाट से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छता की शुरुआत की थी।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कहा कि गंगा स्वच्छता अभियान की शुरुआत और पहल किया गया है जिससे लोगों में जागरुकता आएगी। आगे हर माह के एक रविवार को यह कार्यक्रम चलाया जाएगा। वरुणा और अस्सी नदी पर भी स्वच्छता अभियान चलाकर उसे स्वच्छ और निर्मल किया जाएगा।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से बृज चंद्र झा कुलदीप शुक्ला आकाश शर्मा दिलीप चौरसिया अमित त्रिपाठी  आदि लोग उपस्थित रहे। वहीं अर्पण सोशल फाउंडेशन के सदस्यों द्वारा भी रवि दास घाटपर श्रमदान कर सफाई पर सहयोग किया गया। नागरिक सुरक्षा के नियंत्रक नीरज मिश्रा के अनुसार  गंगा लगभग 1600 स्वयंसेवकों ने उपस्थित होकर स्वच्छता की शपथ ली और वृहद स्वैच्छिक श्रमदान किया। जिसमें विभिन्न संस्थाओं के साथ ही जनपद के समस्त वरिष्ठ अधिकारी एवं सिविल डिफेंस के 300 सदस्य और स्वयंसेवकों ने प्रतिभाग किय

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए हम लोग जन-जन को जोड़कर कार्यक्रम कराते रहेंगे। जिससे स्वच्छता का सपना साकार किया जा सके। स्वागतम काशी फाउंडेशन की ओर से दरभंगा घाट संस्था के संयोजक अभिषेक शर्मा और संस्था के सदस्यों के साथ नगर निगम के कर्मचारियों ने घाट पर सफाई अभियान चलाया उसके बाद मां गंगा की स्वच्छता के लिए शपथ दिलाई गई।

गंगा स्वच्छता अभियान में रविवार को नागरिक सुरक्षा के 24 टीम प्रभारी के नेतृत्व में 300 स्वयंसेवकों ने प्रतिभाग किया। स्वयंसेवकों ने सुबह सात बजे गंगा को स्वच्छ रखने की शपथ लिया और विभिन्न घाटों पर सात बजे से आठ बजे तक गंगा नदी के किनारे से कूडा-कचरा,पालिथिन, फूल-माला आदि निकाल कर उसको निस्तारित कराया। नागरिक सुरक्षा के उप नियंत्रक नीरज मिश्रा ने भी अपनी टीम के साथ भोसले घाट पर श्रमदान किया।

नागरिक सुरक्षा कलेक्ट्रेट प्रखंड पोस्ट नं एक के पोस्ट एक के टीम प्रभारी (पोस्ट वार्डेन) अरविन्द विश्वकर्मा के नेतृत्व में वार्डेन और स्वयंसेवकों ने संकठा घाट पर घाट किनारे से कूडा,कचरा,प्लास्टिक के सामान,पालिथिन आदि को बाहर निकाला और उसका निस्तारण कराया। वहीं नारद घाट पर कलेक्ट्रेट प्रखंड के डिविजनल वार्डेन संजय कुमार राय के नेतृत्व में टीम ने स्वच्छता अभियान चलाया।

स्वच्छता अभियान में उप नियंत्रक नीरज मिश्रा, सहायक उप नियंत्रक योगेश श्रीवास्तव,शारदा सिंह, डिविजनल वार्डेन संजय कुमार राय, सुन्दर शास्त्री, कन्हैयालाल, निधिदेव अग्रवाल, अरविन्द विश्वकर्मा, मनीष गुप्ता, सौरभ श्रीवास्तव, रवि विश्वकर्मा, निजामुद्दीन, सलीम सिद्दीकी, डा.लियाकत अली, लालू प्रसाद, विजय कुमार, राजेश श्रीवास्तव, शशि, विक्रम, रोनित, सुजीत, स्वतंत्र राज, शहजादे आदि शामिल थे।

You may have missed