April 12, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : Corona Virus को देखते हुए BHU में ऑफलाइन क्लास हुई बंद, छात्रावास भी कराए जाएंगी खाली

वाराणसी। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में ऑफलाइन क्लास को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। यहां केवल ऑनलाइन क्लास ही चलेगी। इसके अलावा छात्रों से छात्रावास खाली करने को भी कहा गया है। इसमें किताब सहित अन्य अध्ययन सामग्री साथ लेकर घर जाने को कहा गया है, जिससे कि घर रहने के दौरान उनकी पढ़ाई प्रभावित नहीं हो। विश्वविद्यालय में सोमवार की शाम कुलपति की अध्यक्षता में बैठक हुई जिसमे यह फैसला लिया गया।

छात्रावासों में कोविड-19 पॉज़ीटिव छात्रों के मामले एवं सर सुन्दरलाल चिकित्सालय में कोविड-19 मरीजों की संख्या में इजाफा के मद्देनज़र कुलपति प्रो. राकेश भटनागर ने सोमवार को पठन-पाठन की स्थिति की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

इस बैठक में रेक्टर प्रो. वी. के. शुक्ला, कुलसचिव डॉ. नीरज त्रिपाठी, छात्र अधिष्ठाता प्रो. एम. के. सिंह, मुख्य आरक्षाधिकारी प्रो. आनंद चौधरी समेत विभिन्न संस्थानों के निदेशक, संकाय प्रमुख, छात्रावास समन्वयक एवं विश्वविद्यालय के अन्य अधिकारीगण शामिल हुए।

बैठक में कुलपति प्रो. राकेश भटनागर ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा व उनका हित विश्वविद्यालय की प्राथमिकताओं में सर्वोपरि है और इससे किसी भी प्रकार समझौता नहीं किया जा सकता। इस दौरान विभिन्न संस्थानों के निदेशकों, संकायप्रमुखों व छात्रावास प्रशासकों ने कोविड19 मामलों में आ रही वृद्धि के चलते उत्पन्न स्थिति पर अपने विचार।

बैठक में यह लिया गया फैसला


छात्रों के लिए होली पर्व का अवकाश 23.03.2021 से आरंभ होगा। विश्वविद्यालय में ऑफलाइन कक्षाएं अगले आदेश तक स्थगित रहेंगी। सभी कक्षाएं पहले से तय कार्यक्रम के अनुसार ऑनलाइन मोड में ही चलेंगी। विश्वविद्यालय परिसर या छात्रावासों में मिलन समारोह या इस तरह का कोई भी कार्यक्रम आयोजित नहीं होगा।

कोविड-19 मामलों में हर रोज़ इज़ाफा देखने को मिल रहा है और अगले कुछ दिनों में इन मामलों में और बढ़ोतरी होने की आशंका है जताई जा रही है, ऐसे में छात्रों की सुरक्षा के मद्देनज़र उन्हें सलाह दी जाती है कि वे अपनी पठन सामग्री के साथ अपने अपने घरों को चले जाएं व स्थिति के और गंभीर होने की सूरत में वे घर से ही ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से पढ़ाई करते रहें। आवश्यकता पड़ने पर ऑनलाइन परीक्षाएं आयोजित की जा सकती हैं, जिन्हें छात्र घर से ही दे सकते हैं।

अप्रैल 2021 के पहले सप्ताह में स्थिति की एक बार फिर समीक्षा की जाएगी एवं इस बारे में लिए गए निर्णय को छात्रों व उनके माता-पिता/अभिभावकों को विश्वविद्यालय की वेबसाइट एवं प्रेस एवं मीडिया के माध्यम से सूचित किया जाएगा। विश्वविद्यालय के कार्यालय, शिक्षक व संकाय सदस्य पूर्ववत कार्य करते रहेंगे।

कुलपति प्रो० राकेश भटनागर ने सभी छात्रों व विश्वविद्यालय परिवार के सदस्यों से अपील की है कि कोविड-19 के ख़तरे को देखते हुए वे किसी भी तरह की लापरवाही न बरतें एवं सभी सुरक्षा मानकों जैसे मास्क व सैनेटाइज़र के इस्तेमाल, बार बार साबुन से हाथ धोने, भौतिक दूरी के नियम के पालन, भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचने, आदि का पूरी गंभीरता के साथ पालन करें।

उन्होंने कहा कि कोविड19 का खतरा अभी भी बना हुआ है और हम सभी ज़िम्मेदारीपूर्ण व्यवहार कर एवं इससे बचाव के तरीकों का इस्तेमाल करके स्वयं को व अपने परिवार समेत अपने आस पास के लोगों को सुरक्षित रख सकते हैं।

You may have missed