March 7, 2021

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : लेखपाल निर्धारित रोस्टर के अनुसार गावों में नहीं बैठते हैं तो उनके विरूद्ध भी कार्यवाही होगी- जिलाधिकारी

वाराणसी। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बढते भूमि-विवाद एवं पंचायत चुनाव को देखते हुए समस्त तहसीलों के राजस्व अधिकारियों के साथ शुक्रवार को कैम्प कार्यालय सभागार में बैठक की। जिसमे भूमि-विवाद के निस्तारण के संबंध में चर्चा तथा अब तक की गयी कार्यवाही की रिपोर्ट तलब की।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भूमि-विवाद के बढते प्रकरणों को देखते हुए श्रावस्ती माडल के अनुसार राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की टीम गठित करते हुए इन विवादों को निस्तारित किये जाने का निर्देश दिया तथा समस्त कार्यवाही थानों में जीडी पर दर्ज करायी जायेंगी।

उन्होंने यह बताया कि सभी तहसीलों पर भूमि-विवाद से संबंधित कोई भी व्यक्ति अपना प्रार्थना-पत्र मंगलवार 23 फरवरी 2021 तक वहॉं उपलब्ध बाक्स में डाल सकता है। सभी जमीन से संबंधित पुराने विवादों को इस टीम द्वारा सुलझाया जायेगा। तहसील के बाक्स में प्राप्त किये गये प्रार्थना-पत्रों का निस्तारण उपजिलाधिकारीगण के नेतृत्व में 10 दिनों के भीतर कराया जायेगा।

उन्होंने कहा कि यदि लेखपाल निर्धारित रोस्टर के अनुसार गावों में नहीं बैठते हैं तो उनके विरूद्ध भी कार्यवाही की जायेगा। उन्होंने ग्राम सभा की जमीनों पर अतिक्रमण करने वालों का कार्यवाही करने का भी निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने जन समस्याओं के निस्तारण को प्राथमिकता पर निस्तारित करने हेतु पूर्व में दिये गये निर्दे की अनुपालन की भी रिपोर्ट तलब कि । उन्होंने कहा कि प्रत्येक लेखपाल एवं ग्राम पंचायत स्तरीय सचिव अपने-अपने ग्राम पंचायतों में निर्धारित रोस्टर के अनुसार दोपहर 2 बजे तक उपस्थित रहकर ग्रामीणों की समस्याओं का निस्तारण करायेंगे।

उन्होंने कहा कि आकस्मिक निरीक्षण कराने पर यदि कोई अनुपस्थित मिलता है तो उसका उस दिन का वेतन हमेा के लिए काट लिया जायेगा। तथा इसकी कार्यवाही भी उसके सर्विस बुक में अंकित की जायेगी। यदि किसी ग्राम स्तरीय सचिव को छुट्टी की आवयकता है तो वह एक सप्ताह पहले ही स्वीकृत करायेगा। वसूली के लक्ष्य का अमीनवार रिपोर्ट तैयार उपलब्ध कराने का निर्दे उपजिलाधिकारीगण को दिया।

इस बैठक में समस्त अपर जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।