वाराणसी : केंद्रीय कार्यालय पर धरना दे रहे बीएचयू छात्रों का धरना समाप्त, रखी तीन मांगे

पिछले 18 दिनों से चल आ रहे बीएचयू छात्रों का धरना प्रदर्शन सोमवार को कुलपति राकेश भटनागर, प्रो0 वी0के0 शुक्ला, प्रो0 एम0 के0 सिंह व जिलाधिकारी सुरेद्र सिंह विश्वविद्यालय के रेक्टर द्वारा लिखित आश्वासन के बाद छात्रों द्वारा बीएचयू चीफ प्रॉक्टर के विरुद्ध दी जा रहे धरने को खत्म करवाया।

निर्णायक साबित हुआ डीएम का पहल

पिछले कई दिनों से धरने पर बैठे बीएचयू के छात्र वाराणसी जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह के पहल के बाद छात्रों ने कुलपति से मुलाकात किया। अपनी तीन मांगों को कुलपति के निकट प्रस्तुत किया साथ ही उन्होंने कहा है कि अगर हमारी मांगों को पूरा नहीं होती है तो वापस हम धरने पर फिर से चले जाएंगे।

छात्रों की तीन माग

1 – विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा मुख्य आरक्षाधिकारी प्रकरण में गठित जाँच समिति द्वारा समय बद्ध अवधि एक माह के अंदर जाच पूरी कराई जाए।

2 – नर्सिंग की छात्राओं के विरुद्ध लंका थाने में दर्ज मुकदमे को वापस लिया जाए।विश्वविद्यालय से निलंबित छात्रों को भी वापस बहाल किये जाने की मांग की है।

3 – चीफ प्रॉक्टर रॉयना सिंह के खिलाफ जांच में तेजी लाते हुए 1 महीने के अंदर पूरी रिपोर्ट करने को कहा है साथ ही जांच कमेटी में आचार्य एस0सी0 लाखोटिया को शामिल करने की बात कही है।

अपने विभिन्न मांगों को लेकर के काशी हिंदू विश्वविद्यालय के छात्र पिछले 18 दिन से धरने पर बैठे हुए थे। कई बार विश्वविद्यालय के बातचीत होने के बाद भी मांगे पूरी नहीं माने जाने के कारण छात्रों ने धरना जारी रखा था। सोमवार वाराणासी के जिलाधिकारी ने छात्रों से कुलपति की बात कराई जिसमें तीन मामलों को लेकर सहमति बनी और धरना को समाप्त करवाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *