November 26, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

वाराणसी : गौरव हत्याकांड के आरोपियों से हुई पुलिस की मुठभेड़, एक सिपाही को लगी गोली…

वाराणसी : बीएचयू के छात्र गौरव सिंह की हत्या के मामले में शामिल प्रोफेसर उर्फ सनी मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार हुआ।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय(बीएचयू) के छात्र गौरव सिंह विगत दिनों 2 अप्रैल को हॉस्टल के सामने गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में शामिल अपराधी रूपेश वर्मा उर्फ सनी उर्फ प्रोफेसर को लंका पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान मलहिया लौटूबीर पुलिया के पास से किया गिरफ्तार।

इस मुठभेड़ के दौरान संकट मोचन चौकी इंचार्ज ईश्वर दयाल दुबे की बाएं बाह में गोली लगी। वही प्रोफेसर के दाहिने जांघ में गोली लगी है। इस मौके का फायदा उठा कर राजा दुबे उर्फ रावण भागने में रह सफल।

यह मामला बीएचयू के छात्र की हत्या से जुड़ा होने की वजह से लंका पुलिस की रडार पर था। इस मामले में लंका पुलिस ने बीएचयू के तीन छात्रों को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था और हत्या के मुख्य अभियुक्त की तलाश में टीमें लगातार लगी हुई थी।

आज अमेठी कोठी में ड्यूटी के दौरान लंका इंस्पेक्टर भारत भूषण तिवारी को सूचना मिली कि प्रोफेसर और रावण छित्तूपुर में किराए के मकान में रह रहे है और मलहिया कि तरफ किसी घटना को अंजाम देने के लिए जा रहे है, जिसके बाद इंस्पेक्टर भारत भूषण तिवारी ने घेराबंदी कर पकड़ने की कोशिश करने लगे, इसी दौरान प्रोफेसर और रावण से पुलिस का लौटूबीर के पास आमना-सामना हो गया।

इस दौरान प्रोफेसर ने पुलिस को लक्ष्य कर गोली चलाई जो चौकी इंचार्ज संकटमोचन ईश्वर दयाल दुबे की दाहिने हाथ मे लगी और एक गोली पुलिस की गाड़ी के बाएं हेडलाइट पर लगी। जवाबी कार्यवाही में प्रोफेसर के दाहिने जांघ में गोली लगी और वो वही गिर पड़ा और अंधेरे का फायदा उठा कर रावण भागने में सफल रहा।

पुलिस को मौके से एक सफ़ेद अपाचे और 32 बोर की पिस्टल और दो जिंदा और दो दगा कारतूस बरामद हुआ। पुलिस ने घायल प्रोफेसर को रामनगर लालबहादुर शास्त्री चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। वही घायल चौकी इंचार्ज ईश्वर दयाल दुबे को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

देखे तस्वीरे