November 24, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

जौनपुर : विश्व क्षय दिवस के अवसर पर ठाकुरबाड़ी महिला विकास कल्याण समिति द्वारा संस्था में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

जौनपुर : जिले के सिंगरामऊ स्थित ठाकुरबाड़ी महिला विकास कल्याण समिति द्वारा रविवार को विश्व क्षय दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। वही इस संस्था प्रमुख डॉ0 अंजू सिंह ने विश्व क्षय दिवस के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष की थीम ”इट् इज टाइम” यह कारवाई करने का समय है और टीवी को समाप्त करने का समय है।

उन्होंने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ)ने टीवी के खात्मे हेतु ग्लोबल फंड और स्टाप टीवी पार्टनरशिप के साथ एक संयुक्त पहल ”फाइंड” ट्रीआल शुरू की है हमारे देश में भी 2025 तक क्षय मुक्त कराने का लक्ष्य रखा गया है।

आज टीबी दुनिया का सबसे घातक संक्रामक बीमारी है प्रत्येक दिन लगभग 4500 लोग टीबी से अपनी जान गवाते आते हैं और लगभग 30000 लोग इस बीमारी से ग्रसित हो जाते हैं! ”2025 तक क्षय मुक्त भारत'” के लिए किए जा रहे प्रयासों से भले ही टीबी यानी क्षय रोग के मामलों में कमी आई है। पर विश्व में टीबी नए मामलों में 27% अभी भी भारत से है टीवी के 70% मामले ही प्रकाश में आ पाते हैं 30% को अभी भी खोजने की जरूरत है।

टीवी को जड़ से खात्म करने के लिए समाज में निचले स्तर तक जागरुकता लाने की जरूरत

टीवी के पूर्व खात्मे के लिए समाज में निचले स्तर तक जागरुकता लाने की जरूरत है, ताकि क्षय रोग के लक्षणों को जानते ही इलाज कराना शुरू कर दें और दवा के कोर्स को पूरा करें!अन्यथा एम.डी.आर- टीवी हो सकती है। डॉक्टर डी.एस. यादव ने टीबी के विभिन्न प्रकार, एम.डी.आर. टीबी, सही आहार एवं इम्यून सिस्टम के बारे में विस्तार से बताया।

डीटीओ ऑफिस से आए रामजीत जी ने टीबी के उपचार एवं सभी मरीजों के खाते में (डीवीटी) सरकारी सहायता के बारे में बताएं। ज़िला समन्यवक चाई’ विकास कुमार सिंह ने जिले में चल रहे चाई के कार्यों पर प्रकाश डाला।

रंगोली, किवज, पोस्टर प्रतियोगिता का भी हुआ आयोजन

इस अवसर पर रंगोली, किवज, पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया और क्षय रोग से जागरूकता हेतु हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया। अतिथियों द्वारा विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर संस्था के सभी स्टाफ के साथ साथ काफी संख्या में महिलाएं, पुरुष एवं लड़कियां उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से की गई। जिसका संचालन सरिता वर्मा ने किया।