November 26, 2020

Uttar Pradesh Samachar

Hindi News, Today Hindi News, Uttar Pradesh News

जौनपुर : पैसा ना देने पर खुद रची अपहरण की साजिश

जौनपुर : एक ऐसा मामला सामने जिले के लाइन बाजार थाना क्षेत्र का है जो एक ठेकेदार कुछ लोगों का पैसा ना देने पर खुद रची अपहरण की साजिश, वही गांव के कुछ लोगो को झूठी खबर देखर गायब हुआ था।मुखबिर की सूचना के आधार पर जौनपुर रोडवेज से गिरफ्त में आया ठेकेदार।

जी हां असल जिंदगी में मजबूरी क्या से क्या करवा देती है। कुछ ऐसा ही मामला जौनपुर के लाइन बाजार थाना के अंतर्गत बीते मंगलवार थाना क्षेत्र के फायरब्रिगेड के समीप से देर शाम ठेकेदार नन्हकू यादव का अपहरण बदमाशों ने कर लिया। वही ठेकेदार की बाइक लावारिस हाल में पाई गई थी। सरायख्वाजा क्षेत्र के कोटवार करंजाकला निवासी ठेकेदार नन्हकू यादव के भाई राजेश यादव ने बताया था। कि रात 8 बजे नन्हकू ने अपने दोस्त आजाद यादव को फोन कर कहा कि वह पैसे लेकर घर आ रहा है। कुछ लोग उसका पीछा कर रहे है। और फायरब्रिगेड के समीप हु मुझे बचा लो। इसकी सूचना आजाद ने परिजनों और पुलिस को दिया। जिससे पुलिस ने तालाशी के दौरान खोजबीन में लावारिस हालत में फायरब्रिगेड के समीप झाड़ी में लगभग 9 बजे ठेकेदार नन्हकू यादव की बाइक मिली जिसमे चाबी लगा हुआ था। वही ठेकेदार के भाई ने बताया मोबाइल मिलाया तो स्विच आॅफ मिला। इस फर चिंता हुई। आशंका है थी कि उसका अपहरण पैसे के लिए बदमाशों ने कर लिया है। इस मामले की पुलिस जब जाँच किया तो पूरा मामला एक सोची समझी साजिश नजर आयी।

मुखबिर की सूचना पर धर दबोचा अपर्णहित को

लाइनबाजार थानाध्यक्ष मिथिलेश मिश्रा को बुधवार की सुबह मुखबिर द्वारा सूचना मिली की अपरहण नन्हकू यादव जौनपुर रोडवेज बस स्टैंड के समीप पर खड़ा है, कहि जाने की फिराक में है। इस बात पर पुलिस विश्वास जताते हुए प्रभारी निरीक्षक लाइन बाजार अपनी टीम के साथ अपरहित को रोडवेज बस स्टैंड से बरामद कर लिया। जहाँ पुलिस की पूछताछ में पता चला कि कई लोगों से कंस्ट्रक्शन का पैसा लिया था। निर्माण कार्य पूरा ना करे पाने के कारण ठेकेदार पैसा समय पर नही लौटा पाया। पुलिस की पूछताछ में ठेकेदार ने बताया की उन लोगो को गुमराह करने के नियत से अपने दोस्त जय प्रकाश यादव ,चंद्रशेखर, मोहन यादव के साथ साजिश मिलकर यह षड़यंत्र रचकर मुंबई फरार हो गया था। इस अपहरण मामले झूठी साजिश रच डाली। पुलिस ने इस मामले में अग्रिम कार्रवाई करते हुए धारा 420 ,406 अभियुक्त उपरोक्त को जेल भेज दिया। अभी तीनो आरोपियों की तालाशी जारी है।

You may have missed