जौनपुर : छात्राओं ने गणतंत्र दिवस परेड के चयन प्रक्रिया लगाया आरोप कहा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुकी हैं प्रक्रिया

जौनपुर : जिले के मोहम्मद हसन पी0जी0 कॉलेज के छात्रों ने गणतंत्र दिवस के परेड की चयन प्रक्रिया पर कड़ी सवाल खड़े कर दिए है, छात्र-छात्राओं ने आरोप लगाया है कि परेड चयन प्रक्रिया में भ्र्ष्टाचार की भेंट चढ़ चुकी है ये प्रक्रिया।

जौनपुर के मोहम्मद हसन पीजी कालेज के छात्र-छात्रों में सुमित सिंह, रोशनी जायसवाल, मोहम्मद तालिब, दीपक मौर्या, प्रतीक्षा यादव ने दिल्ली में होने वाले गणतंत्र दिवस परेड में स्वयंसेवकों के चयन प्रक्रिया पर कई सवाल उठाया है। इन छात्र-छात्राओं का कहना है कि वे मध्यक्षेत्र, उत्तरप्रदेश के स्वयंसेवक प्रतीक मिश्रा के साथ हैं। छात्रों का कहना है जब हम अभी इस गणतंत्र दिवस शिविर परेड में भाग लिया था। तो उन लोग देखा कि गणतंत्र दिवस शिविर परेड प्रक्रिया में गलत तरीके से चयन किया जा रहा है। जबकि हम सभी छात्र इसका प्रत्यक्ष रूप से गवाह भी है। इन छात्रों का कहना है कि भ्रष्टाचार मुक्त भारत की शुरूआत की है क्योंकि हम लोग भी मध्यक्षेत्र के स्वयंसेवक हैं। दिल्ली परेड के लिए जिन स्वयंसेवको का चयन हुआ है उनका चयन अनैतिक और अनुचित है। हमारे द्वारा किये गये प्रदर्शन के अंक हमें नहीं बताये गए और चयन कर लिया गया। जब दिल्ली की लिस्ट आयी उसमें भी बहुत सी गडबड़ी हुई। हमारे पास कोई औपचारिक और कानूनी लिस्ट ही नहीं है। हमें प्राप्त हुई एक पीडीएफ के माध्यम से क्या सिर्फ इतना बड़ा निर्णय भेजना सही है क्योंकि पीडीएफ में छेड़छाड़ आसानी से की जा सकती है और हमें भारत सरकार का कोई संवैधानिक पत्र या लिस्ट प्राप्त नहीं हुआ। इतनी बड़े स्तर का चयन क्या एक पीडीएफ के माध्यम से प्रदर्शित करना उचित है जिसमें हर वर्ष छेड़छाड़ की जा रही है। इसी को देखते हुए हम लोग इस चयन प्रक्रिया से पूर्णतया असंतुष्ट हूँ और भारत सरकार से मांग करते हैं कि हम लोगों के साथ न्याय करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *